ज़रूरी है न

सवाल :- क्या रोज उसे I Love You कहना जरूरी है क्या ? मैं उससे प्यार करता हूं उसे पता है, फिर बार बार कहने से क्या मतलब!
जवाब :- ज़रूरी होता है…. कभी कभी उसे अपने दिल की बात कहना भी.. माना कि उसे पता है कि तुम उससे कितनी मुहब्बत करते हो, लेकिन इसका मतलब ये तो नहीं कि तुम कहना ही छोड़ दो। रोज़ ना सही लेकिन जब भी मौका मिले, उसे बताओ की तुम उससे कितनी ज्यादा मुहब्बत करते हो, कितना प्यार करते हो।

हम ये सोचते हैं कि रोज रोज क्या कहना.. और ऐसा सोचते सोचते हम उसे कहना ही छोड़ देते हैं, और फिर जब मौका मिलता है कुछ कहने का.. तो कह ही नहीं पाते ! डर लगता है, अजीब लगता है कि इतने दिनों बाद कैसे कहूं। चीज़ों को इतना भी नजरअंदाज मत करो कि फिर कहने मे झिझक होने लगे।

अगर कोई तुम्हारे लिए important है तो उसे feel करवाओ कि वो तुम्हारे लिए कितना ज्यादा मायने रखता है। फिर भले ही उसे पता हो, पर अगर उसे feel करवा दोगे तो कुछ कम नहीं होगा, उल्टा रिश्ता ही मजबूत होगा! रोज़ ना सही, लेकिन कभी कभी ही सही! अगर कोई तुम्हारी फिक्र करता है तो उसे ये अहसास दिलाओ कि तुम ठीक हो, अगर कोई तुम्हारी चिंता करता है तो तुम्हारी ज़िम्मेदारी है कि उसे फिक्र ना हो। ना की इसकी वजह उसे ही सुनाने लग जाओ। ज़िन्दगी में फिक्र करने वाले लोग बहुत कम मिलते हैं, ओर इस्तेमाल करने वाले बहुत ज्यादा।

जितना सामने वाला तुम्हारे लिए कर रहा है… तुम भी उतना करने कोशिश करो। फिर देखना, ज़िन्दगी कितनी ख़ूबसूरत बनती है। एक दूसरे का साथ दो, एक दुसरे को समझने की कोशिश करो… हर वक्त सामने वाले को किसी से compare मत करो ।

छोटी छोटी चीज़ें बहुत फर्क डालती है रिश्ते में। अगर वो नाराज़ है तो उसे प्यार से मनाकर तो देखो। ” तुम नहीं माने तो मैं भी नाराज़ हो जाऊंगा” कहकर ब्लैकमेल करने की जगह एक बार दिल से प्यार से मनाकर देखो, रिश्ता और मजबूत हो जाएगा।
और………………
#Nilesh

One thought on “ज़रूरी है न

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s