Sad Shayari ( Hindi )

1.”तु मेरी है”
ये बात तो मैं कभी नहीं कहूँगा लेकिन
“तु मेरी थी”
ये कहना तो हक है मेरा..!!

2.तुमसे किसने कहा….ये मुमकिन हैं..??
कि मैं जिन्दा रहूँ और मुझमें तुम न रहो..!!
..😢😢

3.आसान होता अगर इश्क़ में मंजिल को पाना,
तो हीर रांझा की दास्तान फिर कौन सुनाता??

4.उसे छोड़कर जाने का ख़्याल भी ना आया दिल में मेरे…

और वो दूर जाकर ये कह रहे हैं,कि तुम रोक तो सकते थे..!!

5.बस फ़िर क्या बयान होता हाल ऐ दिल..?
जब दिल में रहने वाला आँखों से बहने लगा था..!!

6.याद है मुझे, तूने वादा किया था ज़िंदगी भर साथ निभाने का,
ऐतबार है मुझे तुझ पर,इंतज़ार है तेरे लौट कर आने का।

7.जिसे डर ही नहीं था मुझे खोने का…??
भला उसे क्या फर्क पडता मेरे रोने का…!!

8.जहाँ तक आकर तुम वापिस गए हो ना…??
वहाँ तक….अब तक कोई पहुँचा नहीं था..!!
…😢😢

9.सुनो,
अब तुम पर से भरोसा उठ चुका है…
अब तुम ज़हर खाओ या कसम हमें फ़र्क नहीं पड़ना…!!

10.क्या करोगे जनाब हमे बर्बाद करके..
तेरे इश्क़ में जो मिला वो कम हैं क्या..?

11.चाहती तो रोक लेती तुझे , मगर तेरी खुशी के लिए मैंने तुझे जाने दिया..!!
मैं मर रही थी मुझमें कही , मगर मैंने खुद को मर जाने दिया..!!

12.हर लम्हा इंतज़ार करता था जो मेरा…..
हर वक़्त करता है दूर रहने की अब कोशिश वहीं….!!

13.साहिब.. इज्जत हो तो इश्क़ जरा सोच कर करना,
ये इश्क अक्सर मुकाम-ए-जिल्लत पे ले जाता है।🍂🍂
😭😭

Nilesh

Mirza Galib Shayri

Mujh se Facebook pe jurne ke liye yaha click kare

my Instagram account link

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s